Thursday, 10 November 2016

आप अपना खुद का संसार रचते हैं

शायद मानव इतिहास कि महानतम खोज यह है कि आपके मस्तिष्क में आपके जीवन के लगभग हर पहलू का निर्माण करने कि शक्ति होती है | मानव  निर्मित जगत में आप अपने चारों ओर जो भी चीज़े देखते हैं, वह किसी इंसान के दिमाग में एक विचार के रूप में आई थी और उसके बाद ही  भौतिक जगत में साकार हुई | आपके जीवन कि हर चीज़ किसी विचार, इच्छा, आशा या सपने के रूप में शुरू हुई थी - या तो आपके दिमाग में या फिर किसी ओर के दिमाग में |
                                    सभी धर्मो, सभी दर्शनों , मेटाफिजिक्स, मनोविज्ञान और सफलता का सार या है : आप जिसके बारे में जादातर वक्त सोचते हैं वाही बन जाते हैं | आपका बाहरी जगत अंततः आपके आतंरिक जगत का प्रतिबिम्ब बन जाता है | आपको वाही प्रतिबिम्ब दिखता हैं , जिसके बारे में आप जादातर वक्त सोचते हैं | आप जिसके बारे में लगातार सोचते
हैं वह आपकी जिंदगी में प्रकट होता हैं |
                                   कई हजार सफल लोगों से पूछा गया कि वे जादातर समय किस चीज़ के बारे में सोचते हैं और बातें करते हैं | सफल लोगो का सबसे आप जवाब यह था कि वे जादातर वक्त अपनी  मनचाही चीज़ और उसे पाने के बारे में सोचते हैं |
                                  असफल और दुखी लोग जादातर वक्त अनचाही चीजों के बारे में सोचते हैं और बातें करते हैं | वे अपनी समस्याओ और चिन्ताओ के बारे में बातचीत करते हैं तथा जादातर समय दूसरों को  दोष देते रहते हैं | लेकिन सफल लोग अपनी विचारों और बातों को अपने सबसे प्रबल लक्ष्य पर केन्द्रित रखते हैं | वे जादातर वक्त उस चीज़ के बारे में सोचते और बात करते हैं जिसे वे पाना चाहते हैं |
                                 स्पष्ट लक्ष्य के बिना जीना घने घने कोहरे में कार चलाने जैसा हैं | चाहे आपकी कार कितनी भी दमदार हो, चाते इंजिनीअरिंग कितनी भी बेहतरीन हो , आप धीमे धीमे झिझकते हुए कार चलाएंगे , और बढ़िया से बढ़िया सड़क पर भी गति नहीं पकड़ पाएंगे | लक्ष्य स्पष्ट करने से कोहरा तत्काल छंट जाता हैं  और आपको अपनी योग्यताओं तथा उर्जाओं  पर ध्यान केन्द्रित करने और उनका इस्तेमाल करने का मौका मिल जाता हैं | स्पष्ट लक्ष्य आपको एक सामर्थ्य देते है दस आप अपनी जिंदगी के एक्सीलरेटर को दबा दें और उस सफलता कि ओर तेजी से बढे, जिसे आप वाकई हासिल करना चाहते हैं |


from the book of      लक्ष्य  ( ब्रायन  ट्रेसी 


thankyou very much
RK Sahani

प्ल्ज़ शेयर  एंड लाइक ....

No comments:

Post a comment